Uncategorized

भारतीय जनता पार्टी किसानों के नाम पर घड़ियाली आंसू बहा रही- कांग्रेस उर्वरक और बीज की कमी के लिये मोदी सरकार जिम्मेदार, गांव गरीब किसानों की समृद्धि भाजपा के बर्दाश्त से बाहर

भारतीय जनता पार्टी किसानों के नाम पर घड़ियाली आंसू बहाकर भ्रम पैदा कर रही है। जिला कांग्रेस की प्रवक्ता शिल्पा देवांगन ने भाजपा किसान मोर्चा के उपाध्यक्ष चंदन साहू कि बात का खंडन करते हुए कहा कि राज्य में जो खाद की कमी के कुछ जगह हालात बने है उसके लिए भारतीय जनता पार्टी की केंद्र सरकार जिम्मेदार है। केंद्र सरकार छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा मांगे गए लगभग 11 लाख टन उर्वरकों की समय पर आपूर्ति नही किया जा रहा। राज्य को अभी तक जितनी आपूर्ति होनी थी केंद्र ने उसका आधे से भी कम सिर्फ 45 फीसदी ही आपूर्ति किया। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रधनमंत्री से राज्य को तीन लाख मीट्रिक टन अतिरिक्त उर्वरकों की मांग की थी, केंद्र ने इस पर भी कोई जबाब नही दिया। मोदी सरकार की छत्तीसगढ़ के किसानों के प्रति बदनीयती इसी से झलकती है कि छत्तीसगढ़ को केन्द्र ने उसको आबंटित खाद पर 45 प्रतिशत ही दिया है लेकिन मध्यप्रदेश, उत्तरप्रदेश, गुजरात, पंजाब, हरियाणा जैसे राज्यों को मोदी सरकार ने वहां के लिये आवंटित कोटे का 90 प्रतिशत सप्लाई पूरा कर दिया है।
जिला प्रवक्ता ने भाजपा नेताओं से पूछा कि बताएं किस भाजपा विधायक सांसद ने केंद्र से छत्तीसगढ़ को सरकार के द्वारा मांगे गए उर्वरकों की आपूर्ति शीघ्र करने के लिए पहल की कोई पत्र लिखा। क्या राज्य के किसानों के हित में भाजपा नेताओं का कोई नैतिक अधिकार नही बनता राज्यो को यूरिया देना केंद्र का काम है पूरे देश मे यूरिया की सप्लाई सही नही हो रही तो उसके पीछे मोदी सरकार जबाबदेह है। प्रधानमंत्री मोदी ने आकाशवाणी से प्रसारित मन की बात कार्यक्रम में कहा था कि उनकी सरकार आजादी की 75 वी वर्षगांठ 2022 तक देश मे यूरिया की कमी आधा करने की दिशा में काम कर रही है। बिना किसी वैकल्पिक व्यवस्था के केंद्र सरकार राज्यो में किसानी तक यूरिया की सप्लाई का कोटा अघोषित रूप से कम करना शुरू कर दिया है ताकि मोदी द्वारा घोषित यूरिया की खपत कम करने का लक्ष्य 2022 तक पूरा हो सके। भाजपा और भाजपा की केंद्र सरकार की प्राथमिकता में किसान नहीं ,किसानों से धोखाधड़ी है ।जमीनी सच्चाई यह है कि केंद्र सरकार की किसान विरोधी नीतियों से किसान हलकान है ।डीजल के दाम बढ़ाकर 5 लाख करोड़ रुपए केंद्र की भाजपा सरकार ने आम उपभोक्ताओं और खासकर किसानों के जेब से निकाल लिया है।भाजपा के नेता गांव गरीब किसान और गोपालको की समृद्धि बर्दाश्त नहीं कर पा रहे हैं। कांग्रेस ने छत्तीसगढ़ के किसानों से कहा कि वे फिक्र मत करे राज्य में किसान पुत्र भूपेश बघेल सत्ता में है उनके रहते छत्तीसगढ़ के किसानों का अहित नही हो सकता है। मैं भाजपा नेताओं से कहना चाहती हूं कि असल मुद्दे को उठाकर पेट्रोल डीजल रसोई गैस अन्य आवश्यक चीजों के मूल्य वृद्धि का विरोध कर जनहित कल्याणी कार्य करें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button