Uncategorizedकोंडागांव

कलेक्टर ने विश्रामपुरी एवं केशकाल में माॅर्डन सीएचसी स्थापना हेतु किया आकस्मिक निरीक्षण विश्रामपुरी सीएचसी में कलेक्टर ने ड्रेसर को किया निलंबित, नया ड्रेसर नियुक्त करने दिये निर्देश एक डाॅक्टर एवं वाॅर्ड बाॅय को दिया नोटिस

सोमवार को कलेक्टर पुष्पेन्द्र कुमार मीणा ने केशकाल एवं विश्रामपुरी में स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों को माॅर्डन सीएचसी के रूप में विकसित करने के लिये आकस्मिक निरीक्षण किया। जिला प्रशासन द्वारा स्वास्थ्य अधोसंरचनाओं को सुदृढ़ करने के लिए सभी सीएचसी सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र को आधुनिक उपकरणों एवं सुविधाओं से युक्त कर उन्हें सभी बीमारियों के ईलाज में सक्षम करते हुए माॅर्डन सीएचसी के रूप में विकसित किया जायेगा। माॅर्डन सीएचसी बनने से जिले के निवासियों को गंभीर बीमारियों के ईलाज हेतु बड़े शहरों एवं जिला अस्पताल पर निर्भरता कम हो जायेगी। नजदीकी सीएचसी में ही उन्हें आधुनिक सुविधाये प्राप्त होगी।
केषकाल से की गयी ष्षुरूवात – कलेक्टर सर्वप्रथम केशकाल सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पहुंचे। जहां उन्होंने साफ-सफाई की व्यवस्था के प्रति असंतोष व्यक्त करते हुए एक सप्ताह में व्यवस्थाओं को दूरूस्त करने के निर्देश दिये। इस दौरान उन्होंने सभी वार्डो में जाकर व्यवस्थाओं का अवलोकन किया साथ ही ईलाज हेतु आये मरीजों से उन्होंने चर्चा की। बोदली नगरी से आये मरीज से व्यवस्थाओं के संबंध में कलेक्टर ने पूछा जिसपर मरीज द्वारा खाने एवं साफ-सफाई की व्यवस्थाओं के संबंध में संतुष्टि व्यक्त की गई। कलेक्टर ने डाॅक्टर एवं स्वास्थ्य कर्मियों से अस्पताल संचालन के संबंध में आ रही समस्याओं के संबंध में चर्चा की। जिसमें डाॅक्टरों द्वारा ड्यूटी रूम, सिक्यूरिटी रूम, मरीजों के परिजनों हेतु प्रतिक्षा गृह, डाॅक्टरों हेतु वाॅशरूम की अनुपलब्धता के संबंध में जानकारी दी गई।
मितानिक टेªनरों ने बतायी समस्यायें – इस अवसर पर केशकाल विकासखण्ड के सभी मितानिनों को ट्रेनिंग देने वाली मास्टर ट्रेनरों की समीक्षा बैठक एवं प्रशिक्षण शिविर में जाकर कलेक्टर ने उनके कार्यों के संबंध में ब्योरा लेते हुए कार्यों के सम्पादन में आ रही समस्याओं के संबंध में जाना। मास्टर ट्रेनरों द्वारा उन्हें मितानिनों की अपर्याप्त कार्यबल के संबंध में जानकारी देते हुए मितानिन भर्ती हेतु मांग की गई। कलेक्टर ने मितानिनों द्वारा कोरोना काल में किये गये कार्यों की प्रशंसा करते हुए कार्यबल बढ़ाने हेतु जल्द भर्ती करने हेतु विभाग को निर्देशित किया।
बडेराजपुर में डेªसर वार्ड बाॅय नदारत, हुआ निलम्बित – कलेक्टर ने बड़ेराजपुर विकासखण्ड के विश्रामपुरी स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में पहुंच सभी वार्डों का निरीक्षण किया। इस दौरान ड्रेसर मोहन नाग एवं वार्ड बाॅय रमेश कोर्राम के ड्यूटी पर लम्बे समय से अनुपस्थित होने की जानकारी प्राप्त होने पर कलेक्टर ने ड्रेसर को तुरंत प्रभाव से निलंबित करते हुए नये ड्रेसर को उसके स्थान पर नियुक्त करने के निर्देश दिये। उन्होंने वार्ड बाॅय को कारण बताओ नोटिस जारी किया जिस पर संतुष्टिप्रद जवाब न प्राप्त होने पर कार्यवाही करने के निर्देश दिये।
महिला डाॅक्टर को भी थमाया षाॅकाॅज नोटिस – इसके अतिरिक्त महिला डाॅक्टर के संबंध में मरीजों द्वारा रोजाना विलम्ब से कार्य पर आने के संबंध में शिकायत पर कलेक्टर द्वारा डाॅक्टर को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया।
जल्द सुधरेगी विद्युत व्यवस्था – निरीक्षण में कलेक्टर ने बेडशीटों को निरंतर बदलने एवं स्वच्छता के स्तर को बढ़ाने के निर्देश दिये। इस दौरान स्वास्थ्य कर्मियों एवं डाॅक्टरों द्वारा स्वास्थ्य केन्द्र में विद्युत आपूर्ति में लगातार वोल्टेज के उतार-चढ़ाव से मरीजों के ईलाज में आ रही समस्याओं के संबंध में उन्हें अवगत कराया गया। जिसपर कलेक्टर न े जल्द निवारण हेतु विद्युत विभाग को निर्देशित किया।
कलेक्टर के साथ उपस्थित रहे ये – इस दौरान एसडीएम डीडी मण्डावी, बीएमओ डीके बिसोन, तहसीलदार आषुतोष शर्मा सहित अन्य अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button