हेल्थ

सामुदायिक वनाधिकार पत्र, गोठान, चरागाह, भूअर्जन, कोविड-19, रोका-छेका अभियान के संबंध में कलेक्टर ने दिये निर्देश

कलेक्ट्रेट के सभागार में आयोजित समय सीमा बैठक में कलेक्टर द्वारा आज समय सीमा में लंबित एजेण्डे की गहन समीक्षा की गई और उसके उत्तरोत्तर प्रगति के लिये अधिकारियों को निर्देशित किया गया। बैठक में सर्वप्रथम सीएम जनचैपाल के लंबित पत्रों पर त्वरित कार्यवाही करने हेतु सर्व संबंधित विभाग को निर्देशित किया गया। इसके बाद राजस्व विभाग से संबंधित भूमि प्रकरण केशकाल-रायपुर-विशाखापट्नम के भूअर्जन से संबंधित कार्य को तत्काल निराकरण करते हुए कहा गया कि 06 अगस्त तक इसे संबंधित सूची के खातादारों को तत्काल भुगतान कराने के निर्देश कलेक्टर द्वारा दिये गये। इसके साथ ही कलेक्टर ने अधिकारियों को अवगत कराया।
09 अगस्त को ‘विश्व आदिवासी दिवस – मुख्यमंत्री द्वारा हितग्राहियों से चर्चा की जावेगी। अतः इसे संबंधित सामुदायिक वन अधिकार से संबंधित प्रकरण की पूर्व तैयारी रखें। इसके साथ ही राजस्व विभाग के भूअर्जन संबंधित खूटडोबरा बाइपास रोड कर्राबड़गांव सीमा विवाद के संबंध में भी सर्व संबंधित अधिकारियों को समय सीमा दी गई। सीएफआर वनाधिकार पत्र एवं सामुदायिक वनाधिकार पत्र प्रकरणों के बारे में सभी अनुविभागीय अधिकारियों को कुल पट्टा वितरित करने वाले हितग्राहियों का विवरण वनाधिकार कमेटी द्वारा स्पष्ट अभिमत के साथ प्रस्तुत करने को भी कहा। इसके साथ ही कलेक्टर ने कोविड-19 की स्थिति की जानकारी लेते हुए कहा कि देश के अन्य स्थिति को देखते हुए इस संबंध में पूर्ण सतर्कता बरती जानी चाहिए। इसके लिये सभी सार्वजनिक स्थलों के अलावा कार्यालयों में भी अधिकारी-कर्मचारियों का थर्मल स्कैनिंग अनिवार्य रूप से कराया जाये साथ ही कंटेटमेंट जोन एवं माइक्रो कंटेटमेंट जोन से संबंधित प्रोटोकाॅल का तत्काल पालन भी होना चाहिये। इसके अलावा कोरोना के लक्षण से संबंधित व्यक्ति का कांटेक्ट ट्रेसिंग भी सुनिश्चित किया जाना चाहिए।
बैठक में आवर्ती चराई योजना, चरागाह, गोठान- कलेक्टर ने कहा कि सभी कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत ग्राम सभा का आयोजन करवा कर आवर्ती चरागाहों में बोर खनन के कार्यों को पूर्ण करावें साथ ही यहां एनआरएलएम के माध्यम से यहां स्व-सहायता समूह द्वारा मत्स्य पालन, कुक्कूट पालन, सब्जी उत्पादन को विशेष रूप से प्रोत्साहित करते हुए इस कार्य को 16 अगस्त 2021 तक पूर्ण करावें और ‘आमचो बाड़ी‘ कार्यक्रम के तहत् भूमिहीन महिलाओं के चिन्हांकन के संबंध में भी उन्होंने विकासखण्डवार अद्यतन जानकारी चाही और कहा कि भूमिहीन महिलाओं के अलावा स्व-सहायता समूह की महिलाओं को भी ‘आमचो बाड़ी‘ कार्यक्रम में भागीदारी दी जाये।
रोका-छेका‘ अभियान तथा पाॅलिथीन नियंत्रण – नगरपालिका एवं नगर पंचायत क्षेत्रों में ‘रोका-छेका‘ अभियान तथा पाॅलिथीन नियंत्रण के संबंध में उन्होंने निर्देश किया कि सार्वजनिक स्थानों दुकानों के समीप कूड़ा करकट फैलाने वाले दुकानदारों से जुर्माना वसूली निरंतर होनी चाहिए और बैठक में सर्व संबंधित अधिकारियों द्वारा जुर्माना वसूली संबंधी ब्यौरा बैठक में प्रस्तुत भी किया गया। बैठक के अंत में कलेक्टर द्वारा ‘एरोमेटिक कोंडानार‘ परियोजना के संबंध में सुगंधित एवं मसालेदार पौधों के रोपण के लिए भूमि उपलब्धता के संबंध में भी अधिकारियों को निर्देशित किया।
मौजूद रहंे ये– बैठक में सीईओ जिला पंचायत डीएन कश्यप, वनमंडलाधिकारी दक्षिण वनमण्डल उत्तम गुप्ता, वनमंडलाधिकारी उत्तर वनमण्डल बीआर ठाकुर सहित समस्त विभागों के अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button