कोंडागांव

यूरिया पर मचा वबाल, पूरा गांव हो गया इकटठा आज अलसुबह चार बजे से किराना व्यवसायी यूरिया की कालाबाजारी करते हुये 245 रू की बोरी 600 रू में बेच रहा था किसानों को, तहसीलदार ने की कडी कार्यवाही

मोहलई के सुखधर किराना में खाद की की जारही थी काला बाजारी। गा्रमीणों ने बताया कि गांव के ही सुखधर किराना में यूरिया खाद की कालाबाजारी की भारतीय किसान संघ को जानकारी मिली। गा्रमीणों के अनुसार रात चार बजे से यूरिया की काला बाजारी चल रही थी। किसानों को 600 रुपये में खाद बेचा जा रहा था। और बिल भी सही तरीके से नही दिया जा रहा था। किसानों की मजबूरी का फायदा उठाकर 600रू प्रति बोरी के हिसाब से बेच रहा था। जिसके चलते किसान सब आक्रोश में आ गए। इस बात की ख़बर तुरंत फरसगांव तहसीलदार को गा्रमीणों द्वारा दी गई ।
जांच में सही पायी गयी षिकायत – फरसगांव तहसीलदार ने मौके पर आकर जांच में षिकायत को सही पाया गया। दुकानदार द्वारा 600 रुपये की दर से यूरिया बेचा जा रहा था और किसानों को बिल भी नहीं दिया गया था। किसान संघ के अध्यक्ष हलालराम उपाध्यक्ष मनीराम मरकाम ने किसानों को सही हक दिलाने के लिए आवाज उठाई और प्रषासन को जानकारी दी। तहसीलदार एवं पुलिस प्रशासन द्वारा पूरा तरीक़े से जांच कार्यवाही की गयी। गा्रमीण कार्यवाही पर संतुष्ट नजर आये।
गांेदाम किया गया सीलबंद – कृषि विस्तार अधिकारी अनिल कुमार ने तहसीलदार के आदेश के अनुसार गोदाम को सील कर दिया है और खाद को जप्त किया गया है। फरसगांव थाना प्रभारी की टीम किसानों को शांत करने मौके पर तुरंत पहुँच गई। मुख्य रूप से मोहलई चरकई भण्डारसिवनी चाँदागाव भुरकाभाटा गांव के किसान उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button